दोस्तों आज हम बात करने जा रहे हैं ऐसे लोगों की जिन्होंने मिलकर “टैक्सी सेवा” का बिजनेस शुरू किया और इस बिजनेस को इतनी ऊंचाइयों पर ले गए कि आज इनकी कंपनी का टर्नओवर करोड़ों में है। अपनी परेशानी से एक बिजनेस आइडिया खोज निकालने वाले शख्स ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर कड़ी मेहनत और कठोर परिश्रम के साथ टैक्सी सेवा बिजनेस आइडिया पर काम शुरू किया और आज वह शख्स अपने दोस्तों के साथ सफलता की ऊंचाइयों पर खड़े हैं।

परेशानी से मिला बिजनेस आइडिया-अहा टैक्सी सर्विस, टर्नओवर करोड़ो मे। aha taxi business idea.

हम बात कर रहे हैं मध्य प्रदेश के रहने वाले 25 वर्षीय शिवम मिश्रा Shivam Mishra की जिन्होंने अपनी लगन और काबलियत के बलबूते पर “अहा टैक्सी” Aha Taxi का स्टार्टअप शुरू किया और करोडपति बनने तक का सफर तय किया। आज शिवम बेरोजगार युवाओं के लिए एक मिसाल बन चुके है। Business Idea.

aha taxi business idea

पारिवारिक पृष्ठभूमि।

शिवम के पिता श्री गोविन्द मिश्रा और मां किरण मिश्रा दोनों ही होशंगाबाद के पास सोहागपुर के नजदीक एक कस्बे भटगांव के रहने वाले हैं। दोनों ही सरकारी नौकरी में कार्यरत हैं।
शिवम ने अपनी प्राथमिक शिक्षा होशंगाबाद से प्राप्त की थी, अपनी प्राथमिक शिक्षा पूरी करने के बाद उन्होंने अपनी एलएलएम LLM की पढ़ाई गुजरात के अहमदाबाद में स्थित निरमा कॉलेज से करने लगे। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि उन्होंने अपनी पढ़ाई के दौरान ही साथ मे एक आईटी IT ऑनलाइन कंपनी भी शुरू की थी और उसे बखूबी चला भी रहे थे।

aha taxi business idea

अहा टैक्सी की सर्विस की शुरुआत कब की।

ऑनलाइन आईटी कंपनी चलाने के दौरान ही ऑनलाइन के माध्यम से इनकी दोस्ती अमित ग्रोवर और कुनाल कृष्णा के साथ हुई। तीनों दोस्तो मे एक बात कॉमन थी की वह हमेशा कुछ बड़ा करने के बारे मे सोचते थे और अपना स्टार्टअप करने के बारे मे बाते किया करते थे। कुछ समय के बाद इन सभी की मुलाक़ात भोपाल मे हुई और तीनों ने शिवम के Business Idea आइडिया टैक्सी बिजनेस पर बात की। तीनों दोस्तों को शिवम का आइडिया अच्छा लगा। तीनों दोस्तों ने मिलकर लोगों की सुविधाओं को ध्यान में रखकर एक टैक्सी सर्विस का स्टार्टअप Startup करने के बारे में विचार कर लिया।

उसके बाद उन्होंने भारत सरकार (Indian Government) के द्वारा चलाये जा रहे स्टार्टअप प्रोग्राम Startup Program के अंतर्गत शिवम ने अपने दोनों दोस्तों अमित ग्रोवर और कुनाल कृष्णा के साथ मिलकर दिल्ली में अपनी टैक्सी की सर्विस की शुरुआत कर दी जिसके लिए उन्होंने 5 लाख रूपये का इन्वेस्टमेंट किया था और अपनी इस टैक्सी सर्विस का नाम “अहा टैक्सी” Aha Taxi रखा।

aha taxi business idea

शिवम को कहाँ से आया बिजनेस आइडिया।

एक बार किसी जरूरी काम से शिवम को दिल्ली से होशंगाबाद अपने घर जाना था। इस सफर के लिए किराए की टैक्सी ही सबसे अधिक उपयुक्त थी, इसलिए होशंगाबाद जाने के लिए उन्होने एक टैक्सी की, परंतु उन्हे होशंगाबाद जाने के लिए उन्हे टैक्सी का आने और जाने दोनों तरफ का किराया देना पड़ा। इस होने वाली परेशानी से उन्हे एक बिजनेस आइडिया क्लिक किया क्योकि उनके जैसे ना जाने कितने लोगो को इस तरह की परेशानी का सामना करना पड़ता होगा और अधिक किराया चुकाना पड़ता होगा।

Read More : पॉकेट मनी से शुरू किया करोड़ो का बिजनेस, आज फेसबुक, गूगल है इनके क्लाईंट।

इस बात को ध्यान में रखकर उन्होंने अपनी “अहा टैक्सी” में यह सुविधा दी कि कस्टमर को केवल एक ही तरफ का किराया देना होगा। यदि कस्टमर दोनों तरफ आने जाने के लिए उनकी टैक्सी सर्विस का लाभ उठाता है, तब उन्हें दोनों तरफ का किराया देना पड़ेगा। शिवम की “अहा टैक्सी” की सर्विस ने आज के समय में हमारे देश के अधिकांश शहरों में अपने पांव धीरे धीरे जमा रही है।aha taxi business idea.

aha taxi business idea

कंपनी का कुल टर्नओवर।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि “अहा टैक्सी सर्विस” Aha Taxi ने पहले ही वर्ष में 10 करोड़ रूपये तक का टर्नओवर प्राप्त कर लिया था और वर्तमान समय में आज उनकी कंपनी का कुल टर्नओवर 10 करोड़ रुपए से बढ़कर 30 करोड़ रूपये तक पहुंच चुका है। बताया जा रहा है कि शिवम की कंपनी मे 70% की पार्टनरशिप अमेरिका की एविक्स कंपनी ने ले ली है। जिसका टर्नओवर 15 हजार करोड़ रूपये तक का है। इस वजह से आने वाले समय मे अहा टैक्सी कंपनी का टर्नओवर अब 100 करोड़ रुपए के पार पहुँचने की संभावना है। कंपनी मे इस समय करीब 18 हजार ड्राइवर है। business idea.

Read More : सस्ती दवाइयों का स्टार्टअप, पिता की मृत्यु से मिली प्रेरणा। Medicento success story.

aha taxi business idea दोस्तों भारत देश में अभी नए स्टार्टअप व स्वरोजगार की जरूरत अभी कम नहीं है और यहां संभावनाएं भी बहुत अधिक है। हमारा देश अभी विकासशील देशों की लिस्ट में आता है और इसे विकसित देशों तक आने में थोड़ा समय लगने वाला है जिस वजह से हमारे देश में नए स्टार्टअप के लिए अभी अपार संभावनाएं है। हमारे आस-पास हमें कई चीजों से परेशानी रहती है, यदि हम अपनी उन परेशानियों से कोई बिजनेस आइडिया निकाल सके साथ ही उस पर कड़ी मेहनत कर सके, तो हम निश्चित रूप से एक सफल एंटरप्रेन्योर जरूर बनेंगे और साथ ही अपने देश में रोजगार पैदा कर सकेंगे। शिवम में अपनी परेशानी में भी एक बिजनेस आइडिया को खोज निकाला, और आज एक सफल एंटरप्रेन्योर बनकर हमारे सामने है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here